Thursday, June 08, 2017

प्रीत


प्रीत पर दुनिया टिकी प्रीत है अनमोल
प्रीत की डोरी से बंधे सबके दिल अनमोल
हंसी ठिठोली से बनती प्रीत अनमोल
रुठ कर तोड़ो अमर प्रीत अनमोल
राधा कृष्णा की प्रीत दुनिया में अनमोल
सच्ची प्रीत को बना दिया अनमोल
करो बदनाम है जो प्रीत अनमोल

राधा कृष्णा प्रीत है आलोकिक अनमोल
Post a Comment

हुए हैं जब से शरण तुम्हारी

हुए हैं जब से शरण तुम्हारी , खुशी की घड़ियां मना रहे हैं करें बयां क्या सिफ़त तुम्हारी , जबां में ताले पड़े हैं। सु...